पीबीएम की सुरक्षा पर सवालियां निशान

0
52

बीकानेर। संभाग की सबसे बड़ी अस्पताल पीबीएम में सुरक्षा का जिम्मा प्रभूसिंह नामक युवक को अधिकारी के तौर पर तैनात किया गया जिसका जिम्मा है पीबीएम में लफंगे लोग, चाय देने वाले व रात को रुकने वालों की जांच करना है लेकिन इन सभी को धत्ता बताते हुए चाय वाले दिन भर पीबीएम के वार्डों में चाय लेकर घुम रहे है उनको कोई भी गार्ड नही रोकता है। इस कारण आये दिन मरीजों व उनके परिजनो के सामन गुम हो जाता है लेकिन सुरक्षा अधिकारी की बड़ी लापरवाही के कारण ही बाहर के लोग पीबीएम में घुमते नजर आते है। जानकारी ऐसी मिली है चाय वालों व अन्य लोगों की सुरक्षा अधिकारी से सीधी सेटिग हो रखी है जिसके कारण ये इनको नहीं रोकते है और इसका खामियजा मरीजों व उनके परिजनों को भुगतना पड़ रहा है। सूत्रों से ऐसी जानकारी मिली है सुरक्षा अधिकारी पूर्णता अक्षम है और इसकी शिकायत राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत तक दी है कि एक अक्षम व्यक्ति को पीबीएम की सुरक्षा का जिम्मा दिया है और तो और पीबीएम के डॉक्टरों ने मिलीभगत कर सुरक्षा अधिकारी को प्रमाण पत्र भी जारी कर रखा है। अगर ऐसे लोगों के हाथ में पीबीएम की सुरक्षा रहेगी तो आये दिन होने वाली चोरियां व अन्य घटनाएं बढ़ती ही जायेगी। सुरक्षा में सेंंध मारी होना स्वाभाविक है जब अधिकारी स्वयं अक्षम है तो वह दूसरों में क्या नजर बनायेगा। अधिकारी की शिकायत पीबीएम अधीक्षक को दि है लेकिन उन्होंने भी इस पर कोई कार्यवाही नहीं की है और इसको सुरक्षा अधिकारी बना रखा है। कंपनी व ठेकेदार ने अपनी हठधर्मिता के कारण ये आज तक अपना कार्य कर रहा है। कई बार पीबीएम के सुरक्षा पर सवालियां निशान लगते आ रहे है लेकिन पीबीएम प्रशासन इस ओर ध्यान नही दे रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

*

code