धनतेरस पर बाजार हुआ गुलजार, जमकर खरीददारी

0
35

बीकानेर। जिले भर में धनतेरस का पर्व उत्साह और उमंग के साथ मनाया जा रहा है। घरों में सुख, संपत्ति और खुशहाली के लिए भगवान धनवंतरि की पूजा अर्चना की गई। इस धनतेरस एक अनुमान के मुताबिक करीब 15 करोड़ रुपए का व्यवसाय होगा। जिससे व्यापारियों के चेहरे खिले हुए हैं। सोमवार को धनतेरस की सुबह से ही लोगों का रुख बाजार की ओर रहा। अच्छे शगुन के लिए बर्तन, सोने-चांदी के सिक्के व नोट, चांदी के लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियां और जेवरात के अलावा जरूरत के सामान की खरीदारी की। लोगों ने शगुन के तौर पर चम्मच से लेकर क्राकरी, नॉनस्टिक बर्तन, इंडक्सेन चूल्हा, डिनर सेट आदि की खरीदारी की। बाइक, कार, स्कूटी, स्कूटर का बाजार भी गुलजार रहा और इलैक्ट्रिनिक्स दुकानों पर टीवी, फि ्रज, एलसीडी, वाशिंग मशीन और अन्य उपकरणों की खरीदारी का सिलसिला देर शाम तक चला। बाजार में भीड़ के चलते पांव रखने तक की जगह नहीं थी। जबरदस्त बिक्री से विक्र ेताओं के चेहरे खिल उठे।
चांदी के सिक्के व लक्ष्मी गणेश की सबसे अधिक डिमांड
धनतेरस पर सर्राफा बाजार गुलजार रहा। सोने-चांदी के सिक्कों से लेकर लक्ष्मी-गणेश की मूर्तियों और आभूषणों की बिक्री हुई। पांच सौ से लेकर एक हजार रुपए का चांदी का नोट खूब बिका। पूरे जिले में सर्राफा बाजार में करीब दो करोड़ का कारोबार होने का अनुमान है। क ारोबारियों का कहना है कि इस बार धनतेरस पर चांदी के सिक्के की खरीदारी सबसे अधिक हुई। लोगों ने केवल शगुन के तोर पर सिक्के खरीदे। गत वर्ष की तुलना में इस बार अधिक खरीदारी हुई है।

बर्तन मार्केट में खरीदारी को उमड़ी रही भीड़

इस बार धनतेरस पर्व पर सबसे अधिक खरीदारी बर्तनों की हुई। बर्तनों की दुकानों पर जबरदस्त भीड़ देखी गई। बर्तनों के छोटे आइटम ज्यादा खरीदे गए।

ऑटोमोबाइल क्षेत्र में भी करोड़ों की धन वर्षा
बाइक और कारों की बिक्री में इस बार जिला पीछे नहीं रहा। एजेंसी पर कारों की जमकर बिक्र ी हुई। प्रत्येक कंपनी के दुपहिया वाहनों का बाजार भी गरम रहा। करीब ढाई सौ से तीन सौ के बीच दोपहिया वाहनों की बिक्री का अनुमान है।

बाजार के अंदर रही वाहनों की नो एंट्री
धनतेरस पर बाजार में उमड़ी भीड़ के चलते लोगों को काफी परेशानी उठानी पड़ी। व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन को मशक्कत करनी पड़ी। यातायात पुलिस द्वारा शहर के मुख्य बाजारों के प्रमुख मार्गेां पर वाहनों के आवागमन पर रोक लगा दी थी। बाइक से लेकर रिक्शा आदि को अंदर नहीं जाने दिया। लोगों को बाजार तक पैदल चलकर ही पहुंचना पड़ा।

सजावटी सामानों व कपड़ों की जमकर बिक्री हुई
धतेरस पर दीपावली के सामान की लोगों ने जमकर खरीदारी की। सजावटी आइटम से लेकर र ंग बिरंगी झालरों की खूब बिक्री हुई। इसके अलावा कपड़ा बाजार भी गुलजार रहा। रेडिमेट गारमेन्टस की दुकानों पर महिलाओं की भीड़ देखते ही बन रही थी। वहीं कपड़ों के मार्केट में भी खासी चहल पहल रही।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here