पीएम मोदी ने किया बड़ा काम, पूरी दुनिया देख रही : पटेल परिवार

0
30

नई दिल्ली। गुजरात के केवडिय़ा में पीएम मोदी ने जब सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ यूनिटी का अनावरण किया, तो यह सरदार बल्लभभाई पटेल के परिवार के लिए गौरव की बात थी। सरदार पटेल के नाती-पोते ने काफी गर्व महसूस किया।

गौरतलब है कि सरदार पटेल की प्रतिमा स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी सो दोगुना लंबा है और करीब 2989 करोड़ रुपये की लागत से बनी है। यह गुजरात में नर्मदा बांध के पास में है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सरदार वल्लभ भाई पटेल की 182 मीटर ऊंची प्रतिमा बुधवार को देश को समर्पित करते हुए कहा कि यह भारत को विखंडित करने के प्रयासों को विफल करने वाले व्यक्ति के साहस की याद दिलाती रहेगी। गुजरात के राज्यपाल ओ। पी।कोहली, मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के लोकार्पण के दौरान मौजूद थे। प्रतिमा का लोकार्पण सरदार पटेल की 143वीं जयंती पर हो रहा है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि यदि सरदार पटेल ने देश का एकीकरण नहीं किया होता तो हमें बब्बर शेरों को देखने, सोमनाथ के दर्शन करने और हैदराबाद में चारमीनार देखने के लिए वीजा की जरूरत पड़ती। सरदार पटेल के छोटे भाई की पोती मृदुला ने कहा कि मुझे ऐसा लगा जैसे सरदार पटेल हमारी जिंदगी में वापस आ गए। पूरी दुनिया देख रही है। हम काफी गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं और काफी खुश हैं।

पीएम मोदी ने बड़ा काम किया है। जो लोग पटेल को भूल गये हैं, अब वे उन्हें याद रखेंगे। अगली पीढ़ी भी अब उन्हें जान पाएगी। लोग यहां आने और प्रतिमा देखने को मजबूर हो जाएंगे। सरदार पटेल के परिवार ने कहा कि अगर कोई सरदार पटेल के नाम का इस्तेमाल देश की भलाई के लिए करता है तो उन्हें काफी अच्छा महसूस होता है।

मृदुला के भाई भूपेंद्र पटेल ने कहा कि सरदार पटेल जितना परिवार से प्यार करते थे, उतने ही अपने देश से भी। उन्होंने अपना पूरा जीवन देश की सेवा में लगा दी। वह कोई पैसा और पद नहीं चाहते थे। जब परिवार के पास पैसे नहीं थे, तब उन्होंने मेरे दादा जी को पढऩे के लिए बॉम्बे भेज दिया। वह निस्वार्थी इंसान थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here